Breaking News

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को पत्र लिख की नेटवर्किंग सुविधा के लिए टावर लगवाए जाने की मांग

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice

डिजिटल सपने के परिपेक्ष्य में नेटवर्किंग समस्या निस्तारण हेतु गाज़ियाबाद के लोनी निवासी गौरव राय ने जनपद आजमगढ़ स्थित अपने पैतृक गांव बकेश में टावर लगवाए जाने की मांग की है. इस सम्बन्ध में उहोने रविशंकर प्रसाद (संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स सूचना प्रौद्योगिकी कानून और न्याय मंत्री भारत सरकार) को एक प्रार्थना पत्र दिया है.

गौरव राय ने केन्द्रीय मंत्री को प्रेषित पत्र में उल्लेख करते हुए कहा है कि एक ओर जहां देश डिजिटल इंडिया का सपना देख रहा है, ऑन लाइन शॉपिंग, कैशलेस भुगतान, प्रत्येक सूचना ऑन लाइन और पीओएस मशीनों से राशन वितरण की बात पर जोर दिया जा रहा है. ऐसे में संदर्भ को लेकर अन्य ग्राम वासियों समेत बड़े ही दु:खी मन से अवगत कराना पड़ रहा है कि देश में बहुत से स्थानो पर डिजिटल इंडिया दम तोड़ रहा है. उक्त परिपेक्ष्य में मुख्य रूप से जनपद आजमगढ़ की तहसील लालगंज के गांव बकेश, अहिरौली, उदियावां, पुड़सुडी, अशवनिया व गोडहरा समेत क्षेत्र के अनेक गांवों में मोबाइल टावर नहीं होने से संचार सेवाएं नहीं मिल पा रही हैं.

पत्र में लिखा गया है कि पीओएस मशीनें धूल फांक रही है और डिजिटल सरकारी योजनाएं दम तोड़ रही हैं. जिसके चलते सीमा क्षेत्र संचार सुविधाओं के नाम पर पिछड़ा हुआ है. जहां निजी और सरकारी संचार कम्पनी का मोबाइल टावर नहीं होने से डिजिटल इंडिया दूर का सपना बनकर रह गया है. स्थिति यह है कि आस-पास के गांवों में कहीं मोबाइल सिग्नल मिलता भी है, लेकिन कमजोर नेटवर्किंग के चलते उपभोक्ताओं को इंटरनेट और कॉलिंग का लाभ नहीं मिल पा रहा है. नतीजन डिजिटल इंडिया के उपकरण मात्र शोपीस बनकर रह गए हैं.

गौरव राय ने मंत्री से उक्त क्षेत्र में जितनी जल्दी संभव हो सके, मोबाइल टावर लगाए जाने के लिए मांग की है ताकि दूर संचार माध्यम के अभाव में संचार क्रांति के इस युग में उक्त पिछड़े गांव के नागरिक विभिन्न परेशानियों से छुटकारा पाया जा सके.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …