Breaking News

फैक्ट्री से लूटी ढाई करोड़ की सिगरेट के साथ दो लुटेरों को साहिबाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice

साहिबाबाद थाना क्षेत्र स्थित आनंद इंडस्ट्रियल एरिया में फैक्ट्री के चौकीदार को बंधक बनाकर करोड़ों रुपये कीमत की सिगरेट लूट मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. सीसीटीवी फुटेज व सर्विलांस की मदद से पुलिस ने दो लुटेरों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लूटे गए मार्लबोरो सिगरेट के 189 बॉक्स से लदे टाटा 407 को भी बरामद कर लिया. हालांकि, तीन लुटेरे मौके से फरार हो गए जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें जुटी हैं.

ढाई करोड़ रुपये कीमत की लूटी थी सिगरेट

एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि 20 अगस्त को लुटेरों ने साहिबाबाद थाना क्षेत्र स्थित आनंद इंडस्ट्रियल एरिया में लूट की वारदात को अंजाम दिया था. लुटेरों ने यहां डीएम लॉजिस्टिक कंपनी के गार्ड को बंधक बनाकर इम्पोर्टेड मार्लबोरो सिगरेट के 189 बॉक्स पर हाथ साफ़ कर दिया था. लुटेरे करीब ढाई करोड़ रुपये कीमत के सिगरेट से भरे बॉक्स टाटा 407 में लादकर फरार हो गए थे.

लुटेरों की गिरफ्तारी के सम्बन्ध में जानकारी देते एसपी सिटी अभिषेक वर्मा

पुलिस ने खंगाले सीसीटीवी फुटेज

लूट की वारदात के बाद एएसपी/सीओ बॉर्डर केशव कुमार की अगुवाई में लुटेरों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीम गठित की गयी थी. पीड़ित चौकीदार सुरेश से वारदात के बाबत जानकारी लेने के बाद पुलिस टीम जांच पड़ताल में जुट गयी. घटनास्थल व आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों कि फुटेज खंगालने के साथ-साथ सर्विलांस कि मदद भी ली गयी. इसके साथ ही लुटेरों के कद-काठी व हुलिया की जानकारी के आधार पर भी उनकी तलाश की गयी.

पुलिस गिरफ्त में आये लुटेरे

एएसपी केशव कुमार के मुताबिक़ सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर टाटा 407 की तस्वीरें सामने आ गयी जिसमें सिगरेट के बॉक्स को लाद कर ले जाया गया था. इसके बाद पुलिस ने बॉर्डर एरिया में उक्त टाटा 407 व लुटेरों की तलाश में जुट गयी. कुछ मशक्कत के बाद साहिबाबाद थाना प्रभारी अनिल शाही व पुलिस टीम ने तुलसी निकेतन इलाके से दो लुटेरों विरेन्द्र पाल व जाफर निवासी करावल नगर, दिल्ली को गिरफ्त में ले लिया. पुलिस ने उनके पास से सिगरेट के बॉक्स से लादे टाटा 407 को भी बरामद कर लिया. हालांकि उनके साथी सद्दाम उर्फ़ पंडित, सलमान व राहुल निवासी सोनिया विहार दिल्ली फरार हो गए. पुलिस तीनों की गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी है.

लूट के माल को ठिकाने लगाने वाले थे बदमाश

पुलिस के मुताबिक़ गिरफ्त में आये लुटेरों ने बताया कि उन्होंने फरार साथी सद्दाम उर्फ़ पंडित उर्फ़ गुरूजी के कहने पर लूट कि वारदात की थी. लूट के बाद उन्होंने टाटा 407 का नंबर भी बदल दिया था ताकि कोई उसे पहचान न सके. इसके बाद उन्होंने लुटे गए माल को दिल्ली में बेचे जाने कि तैयारी भी कर ली थी लेकिन ऐन वक़्त पर पुलिस ने उन्हें धर दबोचा.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …