Breaking News

साहिबाबाद की छाबड़ा कॉलोनी के लोगों ने बनाया पलायन का मन, घरों के बाहर लगाए पोस्टर GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice

गाज़ियाबाद के साहिबाबाद थाना क्षेत्र स्थित छाबड़ा कॉलोनी में रहने वाले 15-20 परिवार वहां के रहने वाले एक दबंग शख्स से इस कदर आतंकित हैं कि उन्होंने मकान बेचकर पलायन करने का मन बना लिया. लोगों ने बाकायदा अपने घरों के बाहर “यह मकान बिकाऊ है” के पोस्टर लगा डाले. कॉलोनी की सुरक्षा व्यवस्था बेहतर करने और असामाजिक तत्वों के जमावड़े पर रोक के लिए गली के नुक्कड़ पर लगाई गयी लोहे की जंजीर के चलते उत्पन्न हुआ विवाद इस स्तर तक पहुँच गया है कि लोग अपने आशियाने को त्यागने की बात तक कहने लगे. लोगों का कहना है कि दबंग व्यक्ति बाउंसरों के जरिये उन्हें धमकाता है. ऐसे में उन्हें यहाँ रहने के बजाय पलायन करना ही सही रास्ता नज़र आ रहा है. हालांकि, लोगों द्वारा यह कदम उठाये जाने के बाद वहाँ पहुंचे स्थानीय पार्षद व पुलिस ने उन्हें सुरक्षा का पूरा भरोसा दिया है.

छाबड़ा कॉलोनी के बी-ब्लाक में रहने वाले लोगों का कहना है कि इस इलाके में चेन स्नेचिंग के साथ कई अन्य अपराधिक वारदात हो चुकी हैं. आसपास के इलाकों के रहने वाले असामाजिक तत्वों के कॉलोनी में अक्सर जमावड़े से भी लोग परेशान थे. लोगों की मानें तो यह लड़के कॉलोनी में झुण्ड में खड़े होकर नशा करते थे. रोकटोक करने पर ब्लेड मारने की धमकी देते थे. इसके साथ ही कॉलोनी की गली में तेज स्पीड से बाइक चलाने वाले बाइकर्स का भी आतंक था. पार्क न होने के चलते छोटे बच्चे गली में ही साईकल चलाते और खेलते हैं. लेकिन कोई रोक टोक न होने के चलते इन बाइकर्स से बच्चों को भी खतरा बना रहता था.

इस सब के चलते कॉलोनी में सुरक्षा की दृष्टि से स्थानीय लोगों के द्वारा गली के तीन पॉइंट पर लोहे की चेन लगाई गयी थी. चेन लगवाने में उक्त दबंग शख्स का अहम् रोल था. चेन लग जाने के बाद इलाके में आपराधिक वारदातों में कमी आई और असामाजिक तत्वों और नशा करने वालों के जमावड़े से भी लोगों को निजात मिल गयी थी. लोगों को असुविधा न हो इसलिए लॉक डाउन के बाद कॉलोनी में प्राइवेट गार्ड रख कर दो पॉइंट्स से लोहे की जंजीर हटा दी गयी. लेकिन एक पॉइंट पर यह जंजीर लगी रहने दी गयी जिस रास्ते से असामाजिक तत्व सबसे ज्यादा प्रवेश करते थे.

स्थानीय महिलाओं में नीलिमा माथुर, पुष्पा रौतेला, मीनाक्षी, रजनी सिंह, शान्ति आदि की मानें तो उक्त दबंग शख्स ने जिसने कॉलोनी के तीनों पॉइंट्स पर लोहे की जंजीर लगवाने में अग्रणी भूमिका निभाई थी, अचानक एक पॉइंट पर इस लोहे की जंजीर लगाए जाने के विरोध में उतर आया. वह भी इस हद तक कि कॉलोनी में बाहर के नेताओं और बाउंसरों तक को बुलाकर दहशत व्याप्त कर दी. भरी दोपहरी जब घरों में महिलाएं ही थीं, इन बाउंसरों ने सभी को धमकाया.

इस सब से दहशत में आये लोगों ने जिलाधिकारी व एसएसपी के यहाँ उक्त शख्स के खिलाफ बुधवार को लिखित शिकायत दी. साथ ही अपने घरों के बाहर “यह मकान बिकाऊ है” के पोस्टर चस्पा कर दिए. गुरुवार को इस बात की जानकारी मिलते ही शालीमार गार्डन चौकी इंचार्ज व स्थानीय पार्षद सरदार सिंह भाटी वहां पहुंचे. उन्होंने लोगों को सुरक्षा का पूरा भरोसा दिया जिसके बाद लोगों ने इलाके से पलायन के विचार से अपना मन बदला.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …