Breaking News

कैब लूटने का किया विरोध तो पिस्टल की बट मार कर दी चालक की हत्या, दो गिरफ्तार GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice  

गाज़ियाबाद के साहिबाबाद में एक सप्ताह पहले मोहन नगर चौराहे पर कैब में मिले चालक के शव के मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. पुलिस ने इस मामले में दो लुटेरों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक़ चार लुटेरों ने कैब बुक करायी और उसे लूट लेना चाहते थे, लेकिन इसमें असफल होने पर उन्होंने चालक की हत्या कर दी और शव को मोहन नगर चौराहे पर कैब में छोड़ कर फरार हो गए. पुलिस ने हत्यारोपियों के पास से कैब चालक का मोबाइल फ़ोन, पिस्टल और कारतूस बरामद किया है. पुलिस अब उनके दो अन्य साथियों की तलाश में जुटी है.

एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक़ साहिबाबाद पुलिस ने चेकिंग के दौरान हिंडन एयरफोर्स से नाग गेट तिराहे की तरफ जाने वाले रोड से बैक सवार दो बदमाशों को गिरफ्तार किया. पूछताछ में दोनों कि पहचान लोनी बार्डर निवासी आशीष और दिल्ली के करावल नगर निवासी सोहन पाल के रुप में हुई. पुलिस पूछताछ में सामने आया कि दोनों ने अपने साथियों रंजीत और अंशुल के साथ मिलकर कैब लूटने की योजना बनाई थी.

मृतक कैब चालक सिकंदर पासवान की फाइल फोटो

पुलिस के मुताबिक़ 11 सितंबर की मध्य रात्रि में चारों ने धौला कुंआ से आनंद विहार के लिए प्रति सवारी दो सौ रुपये में कैब बुक की थी. उन्होंने रास्ते में बारापुला फ्लाईओवर पर पेशाब करने के बहाने कैब रूकवाई और चालक सिकंदर पासवान को पीछे खींच कर कैब को अपने कब्जे में ले लिया. सिकंदर ने विरोध किया तो लुटेरों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी. उन्होंने पिस्टल की बट से सिकंदर के सिर पर वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गयी. लुटेरे खून से लथपथ सिकंदर के शव को कैब में लेकर गाजियाबाद की ओर भागे. रास्ते में 12 सितंबर की सुबह मोहन नगर चौराहा के पास पुलिस की चेकिंग चल रही थी. पुलिस द्वारा पकड़े जाने के डर से सिकंदर के शव सहित कैब को मोहन नगर चौराहे पर छोड़ कर फरार हो गए थे.

पुलिस गिरफ्त में कैब चालक सिकंदर के हत्यारोपी

एसपी सिटी अभिषेक वर्मा के मुताबिक़ सिकंदर का शव बरामद होने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू किये गए. सीसीटीवी फुटेज व मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया. जांच के दौरान एक ऑटो की जांच-पड़ताल की गई तो पता चला कि 12 सितंबर की सुबह मोहन नगर चौराहा से ऑटो करावल नगर तक गया है. छानबीन के बाद हत्यारोपियों की जानकारी मिली और पुलिस उन तक जा पहुंची. पुलिस को हत्यारोपी आशीष और सोहन पाल के पास से सिकंदर का मोबाइल फ़ोन बरामद हुआ है. साथ ही पिस्टल और कारतूस भी बरामद किया है. पुलिस अब रंजीत व अंशुल की तलाश में जुटी है.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …