Breaking News

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह सिंह कोश्यारी ने विपिन गौड़ को किया सम्मानित

सत्यम गिरि / गाज़ियाबाद voice

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने  राजभवन, मुंबई में ‘द डेमोक्रेसी’ समाचार और वीडियो पोर्टल के लोगो और वेबसाइट का शुभारंभ किया। महामहिम भगत सिंह कोश्यारी ने लॉन्च के दौरान अपने संबोधन में कहा की देश में कोई राजनेता भगवान नहीं होता बल्कि जनता जनार्दन ही भगवान होती है। बुरा वक्त आता है तो अच्छा भी आता है। हमारी कोशिश होनी चाहिए कि हम हमेशा कोशिश करें कि जो भी कार्य देश की जनता के लिए हों देश हीत के लिए हों उसमे अपना योगदान दें।

आफ्टरनून voice और लोकतंत्र के संपादक डॉ वैदेही तमन ने इस कार्यक्रम की मेजबानी की। कार्यक्रम में बोलते हुए डॉ वैदेही ने कहा, “यह पत्रकारिता को वापस लाने की एक पहल है जहां यह है, पूरा समाचार पोर्टल नागरिक पत्रकारिता के बारे में है। यह लोगों के लिए आवाज उठाने का एक मंच है”। राज्यपाल ने न्यूज़ पेपर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के महासचिव डॉ विपिन गौड़ को उनके द्वारा पत्रकारिता के क्षेत्र में किये कार्यों के लिए सम्मानित किया। विपिन गौड़ को देश व विदेश में भी विभिन्न मंच पर कई बार सम्मानित किया जा चुका है।

विपिन गौड़ ने 18 वर्ष की उम्र से ही पत्रकारिता मे अपने कदम रख दिए थे क्यूंकि उनके पिता डॉ एम आर गौड़ भी देश के जाने माने पत्रकारों मे से एक थे। पिता का हाथ बटाते हुए विपिन गौड़ ने 2005 मे ही न्यूज़ पेपर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के साथ काम करना शुरू कर दिया था। फिर कई समाचार पत्रों मे डॉ गौड़ ने बतौर संवाददाता काम किया। धीरे-धीरे संस्था के कार्यों को बखूबी से करते हुए 2009 मे संस्था के महासचिव का पद संभाला। उन्होंने देश मे पहली बार पत्रकार श्रधान्जली दिवस का आयोजन किया, देश मे पहली बार पत्रकारों का देह दान का कार्य किया, पत्रकारों के हित के लये अपनी सोच और होंसले से कई बड़े बड़े कार्यक्रम किये।

इन कार्यों को देखते हुए ही विपिन गौड़ को 2013 मे अंतर्राष्ट्रीय पत्रकार केंद्र के महासचिव का पद दिया गया। दुनिया का पहला चैम्बर जो की मीडिया कला व फिल्म के लिए कार्य करता है। उन्हें ICMEI इंटरनेशनल चैम्बर फॉर मीडिया एंड एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का 2015 मे मीडिया समिति का अध्यक्ष चुना गया। कार्यक्रम में डॉ विपिन गौड़ सहित पूर्व सांसद और मुंबई विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ भालचंद्र मुंगकर, पूर्व मंत्री दीपक सावंत, रंगमंच व्यक्तित्व भरत दाभोलकर, मकरंद देशपांडे, ट्रांसजेंडर कार्यकर्ता लक्ष्मी त्रिपाठी, आरटीआई कार्यकर्ता विवेक वेलंकर, सेवानिवृत्त को लोकतंत्र पुरस्कार भी प्रदान किए। नौकरशाह महेश ज़ागड़े, सामाजिक कार्यकर्ता चित्रा वाघ, पक्षी अधिकार कार्यकर्ता सुनील कुंजू, श्री अनिल कुमार गायकड को भी सम्मानित किया।

Check Also

गाजियाबाद नगर निगम से निकाली गई स्वच्छता बाइक रैली, चलाया गया जन जागरूकता अभियान

न्यूज़ डेस्क / गाज़ियाबाद voice शहर वासियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने हेतु गाजियाबाद …