Breaking News

लोनी विधायक और पूर्व चेयरमैन के बीच जमकर हुई तकरार, शब्दों की गरिमा हुई तार-तार GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice

भारतीय जनता पार्टी भले ही खुद को शुचिता वाला राजनैतिक दल होने का दावा करती हो, लेकिन दिल्ली से सटे गाज़ियाबाद के लोनी में विधायक व पूर्व चेयरमैन इसकी धज्जियाँ उड़ाने में कोई-कोर कसर छोड़ते नज़र नहीं आ रहे. यूँ तो दोनों के बीच की आपसी खुन्नस जगज़ाहिर है लेकिन सार्वजनिक रूप से व सोशल मीडिया पर भी दोनों गाहे-बगाहे एक दूसरे के खिलाफ अपशब्दों की बौछार करने से नहीं चूकते. एक बार फिर लोनी के एक व्हाट्सएप्प ग्रुप पर दोनों ने खुल कर एक-दूसरे के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली. इस दौरान विधायक व पूर्व चेयरमैन ने शब्दों की गरिमा का भी ख़याल नहीं रखा.

गाज़ियाबाद की लोनी विधानसभा क्षेत्र से नन्द किशोर गुर्जर विधायक है. वहीँ, मनोज धामा लोनी नगरपालिका के पूर्व चेयरमैन हैं. वर्तमान में उनकी पत्नी रंजीता धामा लोनी नगर पालिका की चेयरमैन हैं. नन्द किशोर गुर्जर व मनोज धामा दोनों ही लोनी में मजबूत जनाधार वाले नेता हैं और दोनों के बीच ही 36 का आंकड़ा है. आलम ये है कि दोनों ही नेता मौका मिलने पर एक दूसरे को नीचा दिखाने का मौका नहीं चूकते.

लोनी विधायक नन्द किशोर गुर्जर व नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन मनोज धामा के बीच व्हाट्सएप ग्रुप पर एक दूसरे के बारे में की गई टिप्पणी का एक अंश

दरअसल, मनोज धामा किसी भी रूप में लोनी नगरपालिका के कार्यक्षेत्र में कोई दखलंदाजी नहीं चाहते. यही नहीं, वह उत्तर प्रदेश में आगामी 2022 में होने वाले चुनाव में किसी भी हाल में लोनी विधानसभा से चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके हैं. वहीँ, अपने अलग तेवर, काम करने के अंदाज़ व सुर्ख़ियों में बने रहने वाले विधायक नन्द किशोर गुर्जर पूरे लोनी इलाके में अपनी धमक कायम करना व रखना चाहते हैं. दोनों के बीच कड़वाहट का सिर्फ यही नहीं, कई  कारण हैं.       

दोनों नेताओं के बीच कड़वाहट इस कदर व्याप्त है कि सार्वजनिक रूप से व सोशल मीडिया पर दोनों खुलकर अपनी भड़ास निकालते हैं. एक-दूसरे पर खूब आरोप-प्रत्यारोप लगाते हैं. बुधवार की रात भी यही हुआ. दरअसल, लोनी के एक व्हाट्सएप्प ग्रुप पर किसी शख्स ने सड़क पर धूल व प्रदूषण की तस्वीर साझा कर स्थानीय प्रशासन व जनप्रतिनिधियों की कार्यशैली पर सवाल खड़े किये.

जवाब में विधायक नन्द किशोर गुर्जर ने  उनके तीन साल के कार्यकाल में लोनी में तमाम विकास कार्य करने व बदहाल लोनी की तस्वीर बदलने के दावे करने के साथ अपने कमेंट लिखे. विधायक नन्द किशोर गुर्जर के समर्थक भी उनकी वाहवाही करने में जुट गए. तभी लोनी नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन मनोज धामा की एंट्री हुई. धामा ने गुर्जर पर निशाना साधते हुए लिखा कि खुद के मुह मियां मिट्ठू मत बनो. इसके बाद दोनों के बीच जमकर तकरार हुई. दोनों ने एक दूसरे को लंगडा, गंजा, बौना, बलात्कारी और न जाने किस किस नाम से संबोधित करते हुए खूब कड़वी बातें लिखीं. इशारों इशारों में धामा ने गुर्जर पर षड्यंत्र रचने के आरोप लगाए तो जवाब में गुर्जर ने धामा को जेल जाने के लिए तैयार रहने का संदेश दे डाला. गुरुवार को लोनी के फायरब्रांड दोनों नेताओं के बीच हुई इस तकरार की चर्चा पूरे जनपद में रही.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …