Breaking News

कोविड का टीका पूरी तरह सुरक्षित और असरदार : सीएमओ

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice

कोविड के टीकाकरण को लेकर भ्रांतियों को दूर करने के उद्देश्य से बुधवार को कार्यशाला का आयोजन किया गया. स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से आरडीसी स्थित एक होटल में आयोजित स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण कार्यशाला में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ एनके गुप्ता ने कहा कि कोविड का टीका पूरी तरह सुरक्षित और असरदार है और इसके दुष्प्रभाव को लेकर उठी बातें केवल भ्रांति मात्र हैं.

स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण कार्यशाला के दौरान उन्होंने टीकाकरण के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में वैक्सीनेशन के पहले दिन में 379 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया गया. इनमें केवल 09 लोग ऐसे थे जिन्हें मामूली परेशानी महसूस हुई. उन्होंने कहा कि कोविड का टीका आने से कोविड पर काफी हद तक काबू किया जा सकेगा.

सीएमओ ने कहा कि टीकाकरण के लगभग 42 दिन बाद कोरोना से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता बन जाएगी इसलिए बार-बार कहा जा रहा है कि – ‘दवाई भी-कड़ाई भी’ यानि अभी मास्क लगाना और एक दूसरे से दो गज की दूरी का पालन करना सभी के लिए जरूरी है. साबुन-पानी से अच्छी तरह से हाथ धुलने से जहाँ कोरोना से बचाव होगा वहीँ अन्य संक्रामक बीमारियों से भी बचे रहेंगे.

उन्होंने कोरोना काल में मीडिया की सकारात्मक भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि गाजियाबाद में जिस तरह कोविड का फैलाव हुआ उस हिसाब से यहां मृत्युदर काबू रही. उन्होंने मई-जून तक आमजन तक कोविड टीका पहुंचने की उम्मीद जताई. इस अवसर पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) गाजियाबाद के अध्यक्ष डॉ0 आशीष कुमार अग्रवाल ने कहा कि कोरोना समाप्ति की ओर है, लेकिन टीका जरूर लगवाएं इससे कोई नुकसान नहीं है. उन्होंने टीकाकरण को लेकर अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील करते हुए कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन की प्रभाव उत्पादकता (एफीकेसी) 70 से 80 प्रतिशत तक है और यह बहुत अच्छी स्थिति है.

इस अवसर पर कोविड के नोडल अधिकारी डॉ आरके गुप्ता ने कहा कि कोरोना काल में मीडिया द्वारा निभाई गयी सकारात्मक भूमिका निभायी किसी सेतु से कम नहीं है. उन्होंने कहा टीकाकरण एक महायज्ञ है इसमें सभी की आहूति जरूरी है. साथ ही कहा कि कोविड को लेकर कोई भी भ्रम-भ्रांति हो तो चिकित्सक से परामर्श लें और शासन द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करें. डॉ गुप्ता ने कहा कि वर्तमान में जनपद में कुल 230 एक्टिव केस हैं. केस कम हुए हैं पर सावधानी अब भी जरूरी है.

इस मौके पर सीफॉर संस्था की नेशलन प्रोजेक्ट लीड रंजना द्विवेदी ने कोविड के दौरान मीडिया द्वारा प्रस्तुत की गयीं सकारात्मक ख़बरों की भरपूर सराहना की और कहा कि जब कोई मुश्किल वक्त होता है तो मीडिया द्वारा जागरूकता को लेकर सुझाये गए उपायों का असर समुदाय पर पूरी तरह से देखने को मिलता है. कार्यशाला में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. विश्राम सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुनील त्यागी सहित अन्य लोग उपस्थित रहे.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …