Breaking News

पंचायत चुनाव में राजनितिक गतिविधियों का हिस्सा न बनें कोटेदार/चौकीदार : जिलाधिकारी GHAZIABAD

विनोद गिरि / गाज़ियाबाद

राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप पंचायत चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक तरीके से संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है. इसे लेकर जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने सोमवार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक के साथ ब्लॉक रजापुर, मुरादनगर एवं भोजपुर का सघन दौरा किया. इस अवसर पर जिलाधिकारी ने ब्लॉक में लेखपाल, कोटेदार, ग्राम चौकीदार, उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार एवं पुलिस अधीक्षक के साथ बैठकें कर निर्वाचन को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए निर्देश दिए.

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि 15 अप्रैल को जनपद में पंचायत सामान्य निर्वाचन का मतदान संपन्न होगा एवं 2 मई को मतगणना की जाएगी. जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सभी कार्य आयोग की मंशा के अनुरूप संपन्न कराए जाएं. इस अवसर पर उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि धारा-144 आदर्श आचार संहिता (MCC) की छायाप्रति प्रत्येक चौकीदार एवं कोटेदारों को वितरित कराई जाये जिसके माध्यम से संपूर्ण ग्रामीण क्षेत्र में धारा 144 एवं (MCC) का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जा सके.

उन्होंने निर्देशित किया कि प्रत्याशियों के साथ सम्बन्धित SDM/C0 द्वारा प्रत्येक थाना स्तर पर बैठक का आयोजन किया जाये जिससे प्रत्याशियों को (MCC) एवं धारा -144 के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये सचेत किया जाये कि इसके उल्लंघन पर प्रत्याशी का अभ्यर्थन/नामांकन निरस्त करते हुये सुसंगत धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर कठोर कार्यवाही की जाएगी. यदि प्रत्याशियों/समर्थकों द्वारा वोट मांगने हेतु अनुचित साधनों (यथा-शराब वितरण, पैसा वितरण, वस्त्र वितरण, सार्वजनिक भोज का आयोजन) का प्रयोग किया जायेगा तो सम्बंधित के विरुद्ध FIR दर्ज कर कठोर कार्रवाई कराई जाए.

साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि कोटेदार/चौकीदार स्वयं गांव की गुटबाजी से दूर रहेगें एवं राजनीतिक गतिविधियों का हिस्सा नहीं बनेगें. यदि ऐसा कोई प्रकरण संज्ञान में आया तो उनकी सेवा समाप्त कर उन्हें काली सूची (BLACK LISTED) में दर्ज करते हुये विधिक कार्यवाही की जाये. उन्होंने निर्देशित किया कि कोटेदार/चौकीदार अपने गांव में सतर्क दृष्टि बनाये रखेंगे तथा यह सुनिश्चित करेगे कि यदि कोई अराजकता/धार्मिक/जातीय उन्माद फैलाने का प्रयास करे तो उसकी सूचना तत्काल चौकी थाना/तहसील में दें. ऐसे उपद्रवी/अराजक तत्वों के विरुद्ध NSA/रासुका के तहत कठोर कार्यवाही कर जेल भेजा जाए.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …