Breaking News

वैज्ञानिक को अपहर्ताओं के चंगुल से छुड़ाने वाले नॉएडा पुलिस के जांबाजों का हुआ सम्मान

विनोद गिरि / गाज़ियाबाद voice

फिरौती के लिए डीआरडीओ के वैज्ञानिक को हनीट्रैप में फंसाकर अपहरण करने के मामले का खुलासा करने वाली नॉएडा पुलिस की चारों तरफ वाहवाही हो रही है. शुक्रवार को इस मामले का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को सम्मानित किया गया. पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने नॉएडा के एडीसीपी रणविजय सिंह सहित 21 पुलिस कर्मियों को सम्मानित किया गया.

दरअसल, विगत सितंबर माह 2020 में बदमाशों ने डीआरडीओ के वैज्ञानिक अपहरण कर उनकी पत्नी से 10 लाख की फिरौती की मांग की थी. जिसके बाद एडीसीपी रणविजय सिंह के नेतृत्व में नॉएडा पुलिस ने त्वरित कार्यवाई करते हुए वैज्ञानिक को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया था. साथ ही महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था. नॉएडा पुलिस की इस कार्यवाई की अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने जमकर तारीफ़ करते हुए पुलिस टीम को 5 लाख के नकद पुरस्कार की घोषणा की थी.

इस सम्बन्ध में शुक्रवार को पुलिस कार्यालय सेक्टर- 108 में पुलिस आयुक्त आलोक सिंह द्वारा एडीसीपी नोएडा रणविजय सिंह को 50 हजार का नकद पुरस्कार दिया गया. इसके साथ ही एसीपी-3 नोएडा विमल कुमार सिंह को 45 हजार, निरीक्षक शाबेज खान स्टार-2 टीम को 25 हजार, हैड कांस्टेबल भूपेन्द्र स्टार-2 टीम को 20 हजार, कांस्टेबल बाबर स्टार-2 टीम को 20 हजार, कांस्टेबल आदित्य  स्टार-2 टीम 20 हजार, कांस्टेबल अमरीश  स्टार-2 टीम 20 हजार, कांस्टेबल नितिन  स्टार-2 टीम 20 हजार, प्रभारी निरीक्षक थाना सेक्टर-49 नोएडा सुधीर कुमार 25 हजार, उ0नि0 विकास कुमार थाना सेक्टर 49 को 25 हजार, उ0नि0 प्रिति मलिक थाना सेक्टर 49 को 25 हजार का ईनाम दिया गया.

साथ ही हैड कांस्टेबल प्रभात कुमार थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, हैड कांस्टेबल जय विजय थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, कांस्टेबल सुबोध कुमार थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, कांस्टेबल संदीप कुमार थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, कांस्टेबल अंकित पंवार थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, महिला कांस्टेबल रेनू यादव थाना सेक्टर 49 को 20 हजार, उ0नि0 नवाशीष कुमार सर्विलाँस सैल 25 हजार, हैड कांस्टेबल सोनू राठी सर्विलाँस सैल 20 हजार, कांस्टेबल फिरोज खां सर्विलाँस सैल 20 हजार, कांस्टेबल आदिल सर्विलाँस सैल को 20 हजार रूपये के पुरस्कार से सम्मानित कर अधिकारियों/कर्मचारियों का उत्साहवर्धन करते हुये किसी भी घटना का सफल अनावरण करने के लिये प्रेरित किया गया.

इस मौके पर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने पुरस्कार पाने वाले सभी अधिकारियों एवं पुलिस कर्मचारियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि उन्हें आगे भी अपराधियों के विरुद्ध इसी प्रकार कार्यवाही सुनिश्चित करनी चाहिए ताकि उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री के सपनों को साकार करते हुए अपराधियों के विरूद्ध कठोरतम कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …