Breaking News

आईटीएस मोहन नगर में हुआ ऑनलाइन “इंटरनेशनल कांफ्रेंस -2021” का आयोजन GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice  

गाज़ियाबाद के मोहन नगर स्थित आईटीएस इंस्टिट्यूट में “रिफार्म, परफॉर्म एंड ट्रांसफॉर्म: एन इनसाइट इनटू ग्लोबल कम्पेटिटिवनेस एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट” विषय पर आधारित दो दिवसीय ऑनलाइन इंटरनेशनल कांफ्रेंस-2021 का शुभारम्भ शुक्रवार को किया गया. आयोजन का शुभारम्भ मुख्य अतिथि प्रो अनिल डी सहस्रबुद्धे (चेयरमैन, आल इंडिया कॉउन्सिल ऑफ टेक्निकल एजुकेशन नयी दिल्ली), गेस्ट ऑफ़ ऑनर डॉ राकेश मोहन जोशी (प्रोफेसर, आईआईएफटी), आईटीएस- द एजुकेशन ग्रुप के वाईस चेयरमैन अर्पित चड्ढा निदेशक (मैनेजमेंट) डॉ विद्या सेखरी, कांफ्रेंस कन्वेनर डॉ मनोज कुमार झा द्वारा परंपरागत ढंग से सम्पन्न किया गया.

आईटीएस – द एजुकेशन ग्रुप के वाईस चेयरमैन अर्पित चड्ढा ने सभी छात्रों, शिक्षकों एवं उपस्थित सभी अतिथि वक्ताओं को इस अवसर पर अपनी शुभ कामनाएं दीं. साथ ही छात्रों को प्रोत्साहित करते हुए संस्थान द्वारा इस तरह के आयोजन हेतु प्रसन्नता जाहिर की. डायरेक्टर  मैनेजमेंट डॉ. विद्या सेखरी ने अपने स्वागत भाषण में सभी अतिथियों और प्रतिभागियों का स्वागत किया. साथ ही कांफ्रेंस के मुख्य उद्देश्य पर प्रकाश डाला. उन्होंने वर्तमान पेन्डामिक से उत्पन्न परिस्थितियों में बदलती हुई कॉर्पोरेट कार्य शैली और मैनेजमेंट  प्रैक्टिसेज में आये हुए बदलाव पर चर्चा की. कॉन्क्लेव कन्वेनर डॉ मनोज कुमार झा ने पूरे कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की और कॉन्क्लेव से सम्बंधित मुख्य बिन्दुओं से अवगत कराया और कांफ्रेंस की विशिष्टता पर ध्यान आकर्षित किया.

गेस्ट ऑफ़ ऑनर डॉ राकेश मोहन जोशी ने  कोविड से उत्पन्न परिस्थितयो में देश के आर्थिक ह्रास का जिक्र किया. साथ ही प्रधान मंत्री मोदी के रिफार्म, परफॉर्म एंड ट्रांसफॉर्म मन्त्र से किस प्रकार भारत को पुनः आर्थिक क्षेत्र में शीर्ष स्तर पर स्थापित किया जाए इस पर विस्तृत चर्चा की. उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में भारत की भूमिका पर प्रकाश डाला. मुख्य अतिथि प्रो अनिल डी सहस्रबुद्धे ने शिक्षा जगत से सम्बंधित नीतियों में आये नवीन वदलाव से अवगत कराया. साथ ही रिफार्म, परफॉर्म एंड ट्रांसफॉर्म के मूल मंत्र का सही ढंग से नयी शिक्षा पद्धति में  अनुपालन का जिक्र किया.  उन्होंने ग्लोबल कम्पेटिटिवनेस एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट पर अंतर्राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में चर्चा की.

आईटीएस इंस्टिट्यूट कि मीडिया प्रभारी प्रो मोनिका शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह कांफ्रेंस 9-10 अप्रैल (दो दिनों) तक चलेगा जिसमे देश-विदेश के विभिन्न भागों से भारी संख्या में शिक्षाविद, बिज़नेस एग्जीक्यूटिव, शोधकर्ता, सरकारी प्रतिनिधि एवं नॉन प्रॉफिट आर्गेनाइजेशन के प्रतिनिधि भाग लेंगे और अपना शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे. कांफ्रेंस चार सत्रों में क्रमशः प्लैनरी सेशन, फाइनेंस, मार्केटिंग, ह्यूमन रिसोर्स एवं जनरल मैनेजमेंट विषयों पर आयोजित किये जायेंगे जिसमे शोधकर्ता अपना प्रेजेंटेशन देंगे और उत्कृष्ट शोध कार्य के लिए सम्मानित किये जायेंगे. प्लेनरी सत्र में प्रो डेविड विटेनबर्ग आई एस एम ई, मुंबई, डॉ जस्टिन पॉल, प्रोफेसर यु पी आर (यु एस), इवान मुनिज, डायरेक्टर ऐसेदु पेरू, रोनी फिगुएरेडो, प्रोफेसर एट यु यूरोपिए, लिस्बोन, पुर्तगाल एवं डॉ सोहा अकिकी स्वान प्रेजिडेंट एंड फाउंडर ऑफ़ इनोवेटिव नॉलेज इंस्टिट्यूट एंड पेरिस ग्रेजुएट स्कूल फ्रांस चर्चा में  भाग लेंगे.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …