Breaking News

लॉक डाउन में ढील के साथ आठ माह बाद खुले शिक्षण संस्थान, कोविड नियमों के तहत हुआ शिक्षण कार्य GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice

कोरोना काल में मार्च महीने से बंद शिक्षण संस्थान आखिर सोमवार को खुल गए और शिक्षण कार्य प्रारंभ हो गया. इसे लेकर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन्स के मुताबिक़ शिक्षण संस्थानों में पहले ही तैयारियां पूरी कर ली गई थीं. सोमवार को थर्मल स्क्रीनिंग व सैनेटाईजिंग के बाद ही छात्र-छात्राओं  को स्कूल कैंपस में प्रवेश मिला. हालांकि, स्कूल खुलने के बाद छात्रों की उपस्थिति को लेकर स्कूलों में मिलाजुला असर रहा.

लॉक डाउन में ढील के साथ बड़ी क्लास के लिए खुले शिक्षण संस्थान

कोविड-19 महामारी को रोकने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकारों द्वारा तमाम बंदिशें लगाई थीं. इसी के तहत सभी शिक्षण संस्थानों को भी मार्च महीने में अनिश्चितकाल के लिए बंद रखने और ऑनलाइन क्लास के जरिये पढ़ाई के निर्देश जारी किये गए थे. अब लॉक डाउन में ढील के साथ सोमवार से शिक्षण संस्थानों को खोल दिया गया. हालांकि इसमें बड़ी क्लास के विद्यार्थियों को ही रखा गया.

शालीमार गार्डन स्थित एवरेस्ट पब्लिक स्कूल में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ छात्रों को पढ़ाते शिक्षक

शालीमार गार्डन स्थित एवेरेस्ट पब्लिक स्कूल पहुंचे विद्यार्थी

साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित एवरेस्ट पब्लिक स्कूल में भी इसे लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई थी. स्कूल में क्लास रूम के साथ ही एडमिन ब्लाक, अन्य परिसर व स्कूल बसों को पूरी तरह सैनेटाईज करा दिया गया था. स्कूल की प्रिंसिपल प्रीती शर्मा ने बताया कि सोमवार को पचास फ़ीसदी से अधिक विद्यार्थी स्कूल पहुंचे लेकिन सरकार व प्रशासन के दिशानिर्देश को देखते हुए कुछ विद्यार्थियों को वापस भेजना पड़ा. 98 में से 47 विद्यार्थियों को ही क्लास में बैठने की अनुमति प्रदान की गई. वह भी मास्क पहनने, हैंड सैनेटाईज करने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ.

पिलखुआ स्थित एसवी पब्लिक स्कूल में छात्रा की थर्मल स्क्रीनिंग करते हुए

पिलखुआ के एसवी पब्लिक स्कूल में छात्र-छात्राओं की हुई थर्मल स्क्रीनिंग

वहीँ, पिलखुआ स्थित एसवी पब्लिक स्कूल में भी विद्यार्थी पहुंचे लेकिन पहले दिन उनकी संख्या कम रही. स्कूल पहुँचने वाले प्रत्येक छात्र-छात्राओं की थर्मल स्क्रीनिंग की गई. स्कूल के प्रबंधक योगेश शर्मा ने बताया कि आने वाले दिनों में स्कूल आने वाले विद्यार्थियों कि संख्या बढ़ेगी. ऐसे में प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों को ध्यान में रखते हुए शिक्षण कार्य के लिए स्कूल प्रबंधन पूरी तरह तैयार है.

वसुंधरा स्थित विद्या बाल भवन पब्लिक स्कूल में तैयार किया गया कोविड-19 रूम

वसुंधरा स्थित विद्या बाल भवन पब्लिक स्कूल में भी विशेष तैयारियां

वसुंधरा स्थित विद्या बाल भवन पब्लिक स्कूल में भी शिक्षण कार्य को देखते हुए विशेष तैयारियां की गई हैं. स्कूल के प्रबंधक निशांत शर्मा ने बताया कि मास्क शील्ड व पीपीई किट पहने स्टाफ द्वारा पूरे स्कूल परिसर में बारीकी से सैनेटाईजेशन का कार्य पूरा कराया गया है. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए क्लास रूम के प्रवेश द्वार, कॉरिडोर व अन्य स्थानों पर कुछ मीटर की दूरी पर स्टीकर लगाए गया हैं. बच्चों को जागरूक करने के लिए हैंड शेक व हग न करने जैसे स्टीकर भी जगह जगह लगाये गए हैं. इसके साथ ही स्कूल में कोविड-19 रूम भी तैयार किया गया है.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …