Breaking News

सीएम ने विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये की गाज़ियाबाद में विकास कार्यों की समीक्षा, जिलाधिकारी ने दिया ब्योरा GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice    

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये गाजियाबाद में संचालित विकास कार्यक्रम एवं योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की. उन्होंने जनपद गाजियाबाद में किये जा रहे विकास कार्यों की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की. सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह जन समस्याओं को गंभीरता से सुनें व प्राप्त शिकायतों का समयबद्ध/गुणवत्तापरक निस्तारण करें.

मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी एवं अमृत योजना के तहत कराये जा रहे कार्यों में तेजी से प्रगति लाने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि परियोजनाओं और विकास कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से मानकों के अनुसार पूर्ण किया जाय. साथ ही अधिकारियों को भरोसा दिलाया कि विकास कार्यों के लिए धनराशि की कोई कमी नहीं होगी. इसके साथ ही सामुदायिक शौचालय व ग्राम पंचायत सचिवालय के निर्माण सम्बन्धी कार्यों पूर्ण कराने की कार्यवाही किये जाने के भी निर्देश दिए.

सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार विकास एवं जनकल्याणकारी माध्यम से प्रदेश की जनता को लाभान्वित करने के लिए प्रतिबद्ध है. इस सम्बन्ध में लापरवाही अथवा उदासीनता बरते जाने पर जवाबदेही तय की जाएगी. उन्होंने निर्देश दिए कि संचालित निर्माण कार्य तत्काल पूर्ण कर संबंधित विभागों को हैंडओवर किए जाएं, कार्यों की गुणवत्ता, मानकों पर विशेष ध्यान दिया जाए. समस्त ग्राम पंचायतों में सामुदायिक शौचालय, पंचायत भवनों का निर्माण तत्काल कराया जाए.

सीएम ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रस्तावित कार्यों को समय से पूरा करते हुए सांसद, विधायक निधि का जनहित में सदुपयोग किया जाए. साथ ही लाभार्थीपरक योजनाओं में लाभार्थियों के चयन में पूरी पारदर्शिता बरती जाए. उन्होंने कहा कि हमें कोविड-19 वैश्विक महामारी से भी लड़ना है और तेजी से विकास कार्य को भी संचालित करना है, इसके दृष्टिगत वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए पूरी सतर्कता व सावधानी अपनाते हुए विकास कार्यों को तीव्र गति से पूर्ण किया जाए. सीएम ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए व्यापक जागरूकता कार्यक्रम संचालित कराए जाएं. दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी’ का पालन प्राथमिकता  पर कराया जाए. इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के साथ-साथ एल-2 कोविड हॉस्पिटल को निरन्तर सक्रिय रखा जाय.

समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी डॉ अजय शंकर पाण्डेय ने सीएम योगी को जनपद गाजियाबाद में संचालित विकास कार्यक्रम एवं योजनाओं की विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराते हुए बताया कि जनपद में कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों के मूल्यांकन एवं अनुश्रवण कार्यों के अन्तर्गत जनपद गाजियाबाद मार्च-2020 तक की प्रगति के आधार पर प्रदेश में चौथे स्थान पर एवं मण्डल में प्रथम स्थान पर रहा.

जिलाधिकारी ने जानकारी दी की 50 करोड़ से अधिक लागत की कुल 3 परियोजनायें जिनकी स्वीकृत लागत रू0 298.600 करोड़ है, जिनमें से 02 परियोजनायें पूर्ण हैं तथा 01 परियोजना का कार्य प्रगति पर है. साथ ही कहा कि रू0 10 करोड़ से 50 करोड़ लागत तक की कुल 6  परियोजनायें जिनकी स्वीकृत लागत रू0 157.76 करोड़ है, जिनमें से 05 परियोजनायें माह दिसम्बर 2020 तक पूर्ण कर ली जायेंगी तथा 01 परियोजना माह मार्च-2022 तक पूर्ण किया जाना सम्भावित है.

जिलाधिकारी डॉ अजय शंकर पाण्डेय ने बताया कि डूडा द्वारा समस्त 09 नगरीय निकाय क्षेत्रों में 31221 लाभार्थियों का चयन कर निर्धारित लक्ष्य 15157 के सापेक्ष 14680 प्रधानमन्त्री आवास (शहरी) पूर्ण कराये जा चुके हैं. गाजियाबाद विकास प्राधिकरण की कुल 20188 भवनों की डीपीआर शासन से स्वीकृत हो चुकी है, जिसके सापेक्ष 4553 भवनों का निर्माण कार्य प्रगति में है. 856 भवनों का आवंटन लाभार्थियों का चयन कर किया जा चुका है.

इसके साथ ही जिलाधिकारी ने उ0प्र0 आवास एवं विकास परिषद द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के अन्तर्गत आवास बनाये जाने, नई सड़कों के निर्माण/चौड़ीकरण, सड़कों के सुदृढ़ीकरण कि जानकारी भी दी गयी. साथ ही बताया कि नगर निगम गाजियाबाद द्वारा नेहरू नगर ऑडिटोरियम, सिटीजन क्लब, स्वीमिंग पूल, कार पार्किंग का निर्माण कार्य कराया जाना प्रस्तावित है. साथ ही बताया कि गौवंशों के आश्रय हेतु नगर निगम की 14000 वर्ग मीटर भूमि पर गौशाला का निर्माण कराया जा रहा है, जिसकी लागत रू0 636.46  लाख है.

उन्होंने बताया कि जनपद में बेहतर सुविधा के लिये शासन के निर्देशानुसार निम्नलिखित स्थलों को कोविड-19 चिकित्सालयों के रूप में चिन्हित कर समस्त आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की गई जिनका विवरण निम्नवत् है – L1 कोविड केयर सेन्टर, एस0आर0एम0 इंस्टिट्यूट (350 बैड), L2 ई0एस0आई0सी0 अस्पताल, राजेन्द्र नगर-(76 बैड), L2 संयुक्त जिला चिकित्सालय, संजय नगर-(100 बैड), L3 संतोष मेडिकल, अस्पताल -(400 बैड), 10 Paid प्राइवेट कोविड अस्पताल-(663 बैड), जनपद में 1096 आक्सीजन-(O2 बैड), कोविड अस्पतालों में 135 आई0सी0यू0 बैड. जनपद में प्रशासन के प्रयासों से कोविड-19 में मा0 प्रधानमन्त्री (पी0एम0केयर) फण्ड में रू0 18.64 लाख एवं मा0 मुख्यमन्त्री फण्ड में रू0 23.90 लाख एवं जिला आपदा प्रबन्ध प्राधिकरण, गाजियाबाद फण्ड में 25.76 लाख रू तथा उत्तर प्रदेश कोविड केयर फण्ड में रू0 19.93 लाख की धनराशि जमा करायी गयी है, कुल रू0 88.23 लाख की धनराशि जमा करायी गयी है.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …