Breaking News

स्याही पोते जाने से बौखलाए AAP विधायक सोमनाथ, बोले-योगी की मौत निश्चित है GHAZIABAD

संजय गिरि / गाज़ियाबाद voice  

उत्तर प्रदेश के योगी राज में सरकारी स्कूलों का रियल्टी टेस्ट करने की मंशा लेकर रायबरेली जाना दिल्ली से आम आदमी पार्टी विधायक सोमनाथ भारती को भारी पड़ गया. पुलिस से बहसबाजी के बीच एक युवक ने सोमनाथ भारती के चेहरे पर स्याही फेंक दी. इससे भारती इतना बौखलाए कि युवक के पीछे भागते हुए पुलिस अधिकारियों को वर्दी उतरवाने की धमकी तक दे डाली. वह यहीं नहीं रुके, बौखलाहट में यहाँ तक बोल पड़े कि योगी का अंत निश्चित है. भारती के इस बयान की चारों तरफ निंदा हो रही है.

स्कूलों के हालात पर छिड़ी है जंग

यूपी व दिल्ली के सरकारी स्कूलों की स्थिति को लेकर दोनों प्रदेश के सरकारों के बीच वाक् युद्ध छिड़ा हुआ है. पिछले दिनों दिल्ली सरकार के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया भी उत्तर प्रदेश में सरकारी स्कूल का दौरा करने पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें रोक दिया था. इसी कड़ी में अब सोमनाथ भारती भी उत्तर प्रदेश सरकार को मुह चिढ़ाने पहुंचे तो उन्हें इस तरह के विरोध का सामना करना पड़ा. AAP ने स्वयं उनकी तस्वीर अपने ट्विटर हैंडल से साझा की. पार्टी ने इस घटना के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया.

अधिकारियों ने सोमनाथ को स्कूल जाने से रोका  

सोमवार को दिल्ली से आम आदमी पार्टी के विधायक व पूर्व कानून मंत्री अपने कुछ समर्थकों के साथ यूपी के रायबरेली पहुंचे. यहाँ वह सरकारी स्कूल का दौरा करने की मांग पर अड़े जहाँ पुलिस अधिकारियों ने उन्हें रोक दिया. इस बात को लेकर उनकी पुलिस अधिकारियों से खूब बहस हो रही थी.

पुलिस से बहसबाजी के बीच युवक ने चेहरे पर फेंकी स्याही

इसी बहसबाजी के बीच एक युवक वहां पहुंचा और सोमनाथ भारती के चेहरे व सिर पर स्याही फेंक दी. अचानक हुए इस घटनाक्रम से सोमनाथ बौखला गए और गाली देते हुए युवक के पीछे दौड़ पड़े. इस बीच कुछ पुलिसकर्मी युवक को पकड़ कर एक ओर ले गए. वहीँ सोमनाथ भारती को भी वहीँ रोक लिया.

बौखलाहट में भूले मर्यादा, बोले- योगी की मौत निश्चित

इस घटना से बौखलाए सोमनाथ भर्ती वहां मौजूद पुलिस अधिकारियों पर बुरी तरह बरस पड़े. बोले कि एक एक की वर्दी उतरवा दूंगा. वह यहीं नहीं रुके, सीएम योगी के बारे में अभद्र टिप्पणी करते हुए बोले कि योगी का अंत निश्चित है, जिसके बाद पुलिस उन्हें अमेठी ले गई. बताया जा रहा है कि अमेठी में सोमनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज है इसलिए पुलिस उन्हें वहां ले गई.

सोमनाथ भारती के बयान का पहले ही हो रहा था विरोध

उधर, स्याही फेंकने वाले युवक ने सोमनाथ को पीएफआई का एजेंट बताते हुए कहा कि वह यूपी का माहौल बिगाड़ने आये हैं. दरअसल रायबरेली पहुँचने से एक दिन पहले अमेठी पहुंचे सोमनाथ ने विवादित एक बयान देते हुए कहा था कि “हम यूपी में आये हैं और यहाँ सरकारी स्कूलों और अस्पतालों की दशा देख रहे हैं जो बेहद खराब है, अस्पतालों में बच्चे तो पैदा हो रहे हैं लेकिन इंसान नहीं कुत्तों के.” सोमनाथ के इस बयान का लोगों ने खूब विरोध किया था.

AAP’ ने ट्वीट कर कहा- यूपी में तानाशाही चरम पर

उधर, इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी ने ट्वीट कर यूपी में तानाशाही चरम पर बताते हुए योगी राज को ‘अपराधी बचाओ, विरोध दबाओ’ के समकक्ष कहा. ट्वीट में यह भी लिखा गया कि पूर्व मंत्री व विधायक सोमनाथ भारती पर रायबरेली में भाजपाइयों ने हमला कर दिया और सोमनाथ जी को ही पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया. आगे लिखा गया कि स्कूल, अस्पताल की बदहाली पर सवाल उठाने पर योगी सरकार ने आप नेताओं को आतंकित करना शुरू कर दिया है.

Check Also

श्रेया हॉस्पिटल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर का आयोजन, कोरोना कर्मवीरों को किया गया सम्मानित GHAZIABAD

अभिषेक सिंह / गाज़ियाबाद voice साहिबाबाद के शालीमार गार्डन स्थित श्रेया हॉस्पिटल में विश्व फिजिओथेरेपी …